इंदौरक्राइमभोपालमध्यप्रदेश

भोपाल ओर इंदौर मे लूट की वारदातो को अंजाम देने वाले बदमाशो को क्राईम ब्राच ने दबोचा

भोपाल। राजधानी की क्राईम ब्राच टीम ने बडी सफलता हासिल करते हुए अर्तराज्जीय स्तर पर अलग-अलग शहरों में लूट करने वाले 50 हजार के के ईनामी लुटेरो को गिरफतार करने मे सफलता हासिल की है। पकडाये गये बदमाशो ने भोपाल के कोहेफिजा इलाके मे  2 लूट ओर इन्दौर शहर में लूट की 3 ओर चोरी की 1 वारदात को अंजाम देने की बात का खुलासा किया है। पुलिस टीम ने लूटेरो से घटना में इस्तेमाल की गई एक्टिवा ओर 6 सोने की चेन, 3 मोबाईल सहित साढे चार लाख का माल बरामद किया है। पकडाये गये बदमाश सूनसान इलाको मे महिलाओं को अपना टारगेट बनाकर लूट की वारदात को अंजाम देते थे। शातिर बदमाशो ने पुलिस की पकड से बचने के लिये भोपाल ओर इन्दौर में गाडी के नंबर की पहचान छुपाकर ग्रे कलर की एक्टिवा वाहन से लूट की वारदात को अंजाम दिया था। पुलिस ने बताया कि बदमाश उन राज्य/शहरों को टारगेट कर वारदाते करते थे, जहां उन्हे कोई जानता न हो।
पकडाये गये दोनो बदमाशा शातिर अपराधी है, जिनमे शामिल प्रेम खत्री 17 दिन पहले ही जेल से छूटकर अपने साथी सचिन के साथ मिलकर लूट की वारदात को अंजाम देने लगा था। अधिकारियो ने जानकारी देते हुए बताया कि क्राइम ब्रांच की भोपाल टीम को मुखबिर से सूचना मिली की थाना बैरागढ क्षेत्र के सीटीओ ईलाके में दो सदिंग्ध युवक किसी वारदात को अंजाम देने की नियत से घूम रहे है। मुखबिर से मिली जानकारी के आधार पर क्राइम ब्रांच टीम ने मुखबिर द्वारा बताये गये स्थान बैरागढ क्षेत्र के सीटीओ इलाके मे देखा तो वहॉ दोनो संदिग्ध युवक ग्रे कलर की ऐक्टिवा से घूमते नजर आये, जिस दो पहिया वाहन पर दोनो सदिग्ध युवक घूम रहे थे, उस वाहन के नंबर प्लेट की पहचान छुपा दी गई थी। सदेह के आधार पर पुलिस टीम ने उन्हे घेराबंद्धी कर हिरासत मे लेते हुए पुछताछ की जिसमे उनकी पहचानर सचिन पिता नरहरि (37) निवासी, नागपुर (महाराष्ट्र) ओर प्रेम खत्री पिता सालिक राम खत्री (30) निवासी, वर्दा रोड नागपुर (महाराष्ट्र) के रुप मे हुई। आगे की जॉच मे दोनो बदमाशो के फुटेज राजधानी ओर इंदौर मे हुई लूट की वारदातो के बदमाशो से मेल होने पर पुलिस ने जब उनसे सख्ती से पूछताछ की जिसपर दोनो आरोपियों ने अपना जुर्म स्वीकार करते हुये भोपाल तथा इन्दौर शहर में लूट की वारदातो को अंजाम देने का खुलासा कर दिया। पुलिस पुछताछ मे सामने आया कि दोनो बदमाशा सूनसान रास्तो पर सुबह ओर रात के समय रैकी करते, ओर फिर अकेली महिलाओं को टारगेट बनाकर अपना शिकार बनाते हुए उनके गले से चेन झपट लेते थे। आरोपी उन राज्यो/शहरों में जाकर वारदात को अंजाम देते थे जहां उन्हे कोई जानता न हो।
अधिकारियो ने बताया कि पकडाये गये बदमाशो मे शामिल सचिन 10वी कक्षा तक पढा है, जिसने भोपाल में थाना कोहेफिजा मे 2 ओर इन्दौर में लूट के 3 चोरी की 1 वारदात को अंजमा दिया है,उसके खिलाफ महाराष्ट्र के नागपुर, पुणे के अलग-अलग थानो हुण्डकेश्वर, थाना अजनी, थाना आरपीनगर थाना सोनेगांव थाना धनतोली और कई अन्य थानो में लूट, चोरी आबकारी के 36 मामले दर्ज है। वही दूसरे बदमाश प्रेम खत्री जो कि 12वी तक पढा है, उसपर भोपाल में थाना कोहेफिजा मे लूट के 2, इन्दौर में लूट के 3 ओर चोरी का 1 मामला दर्ज है। उसके खिलाफ महाराष्ट्र के नागपुर, पुणे के अलग-अलग शहरो थाना कोरादी, थाना धनतोली थाना लकडगंज, थाना जरीपतका, थाना हुण्डकेश्वर, थाना यशोधरा में मारपीट, लूट, चोरी, आर्म्स एक्ट, आबकारी के 9 प्रकरण दर्ज है। पुलिस दोनो बदमाशो से चोरी की अन्य वारदातो के बारे मे पुछताछ कर रही है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button