मध्यप्रदेश
Trending

स्मार्ट सिटी उज्जैन में 113 करोड़ की योजनाएं लोकार्पित:सीएम बोले स्कूल देखकर मन करता है मैं भी नूतन स्कूल में एडमिशन ले लूं, हंस पड़ी छात्राएं

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आज स्मार्ट सिटी एवं उज्जैन विकास प्राधिकरण के कुल छह निर्माण कार्यों का ई-लोकार्पण किया। 113 करोड़ रुपये की लागत की ये सौगातें उज्जैनवासियों को एकसाथ मिलीं। मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर कहा कि नगरीय विकास के कार्यों को आर्थिक समस्याओं के बाद भी पटरी से उतरने नहीं दिया गया है।

मुख्यमंत्री ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये उज्जैन के शासकीय उमावि महाराजवाड़ा की प्राचार्य सुश्री उषा डोरे से बात की। उषा डोरे ने कहा स्कूल में प्राचार्य कक्ष, पुस्तकालय, बहुउद्देशीय हॉल, प्राथमिक चिकित्सा कक्ष, संस्कृत महाविद्यालय हेतु छात्रावास, छह प्रयोगशाला तथा मैदान बनाये गये हैं। स्कूल में नवीन फर्नीचर व स्मार्ट क्लास की सुविधाएं भी उपलब्ध कराई गई है व बिजली के लिये सोलर पैनल लगाये गये हैं। तो मुख्यमंत्री बोल पड़े कि स्कूल भवन के चित्र देखकर एवं उसकी विशेषताएं सुनकर उनका भी मन स्कूल में एडमिशन लेने का हो रहा है। इतना सुनकर नूतन स्कूल के सभाकक्ष में मौजूद स्कूल की छात्राएं भी हंस पड़ी। मुख्यमंत्री ने पालक रवि नामदेव से भी बात की।

मुख्यमंत्री ने प्राचर्य उषा डोरे व पालक रवि नामदेव से भी चर्चा की।

मुख्यमंत्री ने प्राचर्य उषा डोरे व पालक रवि नामदेव से भी चर्चा की।

लोकार्पण समारोह में नूतन स्कूल परिसर में उच्च शिक्षा मंत्री डॉ. मोहन यादव, सांसद अनिल फिरोजिया, विधायक पारस जैन, कलेक्टर आशीष सिंह, नगर निगम आयुक्त अंशुल गुप्ता, स्मार्ट सिटी सीईओ जितेन्द्रसिंह चौहान, यूडीए सीईओ एसएस रावत मौजूद थे। कार्यक्रम का संचालन शैलेंद्र व्यास स्वामी मुस्कुराके ने किया।

डेंगू-कोरोना को लेकर भी बोले सीएम –

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि जिस तरह से कोविड का नियंत्रण किया गया है, उसी तरह डेंगू के नियंत्रण पर भी कार्यवाही की जा रही है। हमारे शहर गन्दगी, प्रदूषण, अपराध एवं माफियाओं से मुक्त हो, यह प्रयास निरन्तर जारी है।

उज्जैन के विकास के लिए अब सिंहस्थ का इंतजार नहीं करना पड़ रहा –

नूतन स्कूल परिसर में आयोजित लोकार्पण कार्यक्रम में सम्बोधित करते हुए उच्च शिक्षा मंत्री डॉ. मोहन यादव ने कहा यह स्कूल में शिक्षा संकुल उज्जैन का सबसे बड़ा एवं भव्य है। यह एक लाख 86 हजार वर्गफीट में बनाया गया है। इससे सात स्कूल जोड़े गये हैं। उच्च शिक्षा मंत्री ने इस शिक्षा संकुल का नाम कवि श्री श्रीकृष्ण सरल के नाम से रखने का सुझाव दिया। कहा इस संकुल में संस्कृत महाविद्यालय का भवन भी बनाया गया है। डॉ. यादव ने कहा कि उज्जैन के विकास के लिये अब सिंहस्थ का इंतजार नहीं करना पड़ रहा है।

लोकार्पण के बाद मंत्री, विधायक व कलेक्टर ने भवन का निरीक्षण भी किया।

लोकार्पण के बाद मंत्री, विधायक व कलेक्टर ने भवन का निरीक्षण भी किया।

सांसद अनिल फिरोजिया ने कहा उज्जैन शहर को चारों ओर से नेशनल हाईवे से जोड़ा जा रहा है। यहां पर औद्योगिक विकास के लिये भी निरन्तर कार्य हो रहा है। विधायक पारस जैन ने कहा कि वर्तमान में स्मार्ट सिटी द्वारा शहर में 700 करोड़ से अधिक के काम किये जा रहे हैं, जिससे उज्जैन नये स्वरूप में दिखेगा। साथ ही 300 करोड़ के नये काम भी प्रस्तावित किये गये हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button